अन्य पराविद्याएं


होलिकोत्सव एवं होलिका दहन की वेला

हिंदुओं के चार मुख्य त्यौहार रक्षा बंधन, दशहरा, दीपावली एवं होली है। होली का अपना विशिष्ट स्थान है। यह पर्व विश्व मानवता का प्रतीक है। इस दिन लोग धर्म, जाती, उंच, नीच आदि के भेदभाव को भुलाकर परस्पर एक-दूसरे के गले मिलते है।... और पढ़ें

देवी और देवअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 6341

वासंतिक नवरात्र व्रत

वासंतिक नवरात्र व्रत

फ्यूचर समाचार

चैत्र आषाढ़, आश्विन और माघ के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक के नौ दिन नवरात्र कहलाते है। इनमें चैत्र के नवरात्र “ वासंतिक नवरात्र” और आश्विन के नवरात्र “शारदीय नवरात्र “ कहलाते है। इनमें आद्याशक्ति जगत जननी सिंह वाहिनी मां दुर्... और पढ़ें

देवी और देवअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 6377

अनेक रोगों में कारगर है पुष्प चिकित्सा

रंगों की प्रभावशीलता हर दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है। रंग हमारे जीवन का अटूट हिस्सा रहे है। रंग ही नहीं खुशबू भी हमारे मन-मस्तिष्क पर गहरे एवं अनुकूल प्रभाव छोडती है। रंग एवं सुगंध का समग्र मिश्रण रंग-बिरंगे सुरभित पुष्प है, जिनकी ए... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 8726

सुगन्धित तेलों से उपचार

सुगंध चिकित्सा का इतिहास ५००० वर्षों से भी अधिक पुराना है। “ एरोमा “ शब्द की उत्पति ग्रीक भाषा के शब्द “ स्पाइस” से हुई है। आधुनिक युग में इसका प्रयोग विस्तृत रूप से मधुर सुगंध के अर्थ में होता है। सुगंध चिकित्सा उपचार की एक पवित्... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 6655

कहां से आया एक्यूपंक्चर

एक्यूपंक्चर चीनी चिकित्सा पद्वति है, जिसका चलन चीन में पिछले दो हजार वर्षों से है। इन दो हजार वर्षों में इस पद्वति का चीन में काफी विकास हुआ है और लंबे दौर से गुजरने के बड़ा यह समय की कसौटी पर खरी उतरी है। आज के अति आधुनिक समय में,... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 5604

आंखो की खोई रोशनी वापस लौटाए माइक्रोसिस्टम एक्यूपंक्चर

जीवन में आंखो की उपयोगिता कितनी है। इस बात का एहसास उन लोगों से अधिक किसे होगा जो जन्मांध है और नेत्रहीन कहलाते है। लेकिन कुछ लोगों की आंखों से रोशनी धीरे-धीरे कम होती चली जाती है। और वे आंखो के होते हुए भी देख नहीं पाते ३२ प्राकृ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 26995

कोरियाई चिकित्सा पद्वति सुजोक

चिकित्सा की सु जोक एक्यूपंक्चर पद्वति शारीरिक मानसिक और भावनात्मक तीनों स्टारों की चिकित्सा के लिए एक कारगर पद्वति है। इसका आधार ऊर्जा संतुलन अर्थात यिन और यैंग (पांच तत्व – काष्ट, अग्नि, पृथ्वी, धातु, जल ) का संतुलन है।... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 7096

चुम्बक चिकित्सा से रोगों का निदान

केवल पृथ्वी ही नहीं, बल्कि मानव शरीर और प्रत्येक कण एक चुम्बक है। यही कारण है की सभी जीवों के स्वास्थ्य और उनकी जीवन शक्ति का संबंध पृथ्वी के साथ है। हम सभी जानते है की यदि हम नंगे पांव घास पर चले तो थकावट और विषाद दूर हो जाते है।... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 11183

एक्यूप्रेशर के मुख्य उपकरण

भारत में ५००० वर्ष पूर्व एक विशेष चिकित्सा पद्वति प्रचलन में थी। यही चिकित्सा प्रणाली कालांतर में एक्युप्रेशर “ के रूप में जानी गई। एक्युप्रेशर का शाब्दिक अर्थ है, उंगली, अंगूठे अथवा किसी एनी उपकरण से दबाव देकर शरीर को स्वस्थ रखने... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 16262

जीवन ऊर्जा का स्त्रोत है रेकी

रेकी एक प्राकृतिक चिकित्सा है। इस चिकित्सा पद्वति की खोज जापान में हुई थी। रेकी का शाब्दिक अर्थ है। “जीवन ऊर्जा” सर्वप्रथम जापानी वैज्ञानिक डा। मिकाओ यूसूई ने इस पद्वति को लोगों के सामने लाया। रेकी सर्वव्यापक जीवन ऊर्जा पर केंद्रि... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 7377

प्राकृतिक चिकित्सा आरोग्य की संजीवनी

प्राकृतिक चिकित्सा उतनी ही पुरानी है जीतनी की प्रकृति स्वयं या उसके मूल तत्व आकाश, वायु, अग्नि, जल पृथ्वी आदि। इस प्रकार यह चिकित्सा प्रणालियों की जननी है। आदि काल में कोई औषधि चिकित्सा नहीं होती थी। उस समय फल, दूध, उपवास आदि द्वा... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 15918

इयर कैंडलिंग से कान, नाक और गले का उपचार

इयर कैंडलिंग अर्थात कान का मोमबती से उपचार, जिसका उपयोग सारे संसार में सदियों से होता रहा है। कानों के उपचार की इस विधि में प्राकृतिक वस्तुओं से बनी खोखली मोमबती को कान में प्रवेश कराकर उसे जलाया जाता है। इससे कानों तथा दिमाग का त... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपाय

मार्च 2007

व्यूस: 9477

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)